Paneer Momos बच्चे हो या बड़े सभी को बेहद पसंद होते हैं। वैसे तो बाजार में अलग-अलग तरह के मोमोज बड़ी ही आसानी से उपलब्ध हैं। लेकिन रोजाना बाहर का खाना सेहत को बेहद नुकसान पहुंचाता है। ऐसे में आज हम आपको घर में Momos बनाने का बहुत ही सरल तरीका बताएंगे जिसके सहारे आप अपने घर पर बहुत ही आसानी से स्वादिष्ट मोमोज बना पाएंगे।

Momos Kya Hai

मोमोज तिब्बत तथा नेपाल के बहुत ही प्रसिद्ध नाश्ता है जिसे बड़े चाव से आमतौर पर खाया जाता है, तथा यह मैदा के लोई के अंदर अपना मनपसंद खाद्य सामग्री जैसे पनीर, पत्ता गोभी, गाजर चिकन, इत्यादि भर के इसे पानी के भाप पर पकाया जाता है।

तथा यह भारत के उत्तर पूर्वी राज्यों अरुणाचल प्रदेश के मोनपा और शेरदुकपेन जनजाति  के खान-पान का अहम हिस्सा है। यह जगह तिब्बत बॉर्डर के काफी करीब है इस जगह पर मोमोज को पोर्क और सरसों की पत्तियाें व अन्य हरी सब्जियाें की फिलिंग से तैयार किया जाता है।

तैयार होने के बाद इसे तीखी मिर्च के चटनी के साथ खाया जाता है मोमोज एक चाइनीज शब्द है जिसको हिंदी में बोले तो भाप से पकाई हुई रोटी तथा चीन में इसे डिमसम के नाम से भी जाना जाता है।

Paneer Momos के लिए आवश्यक सामग्री

  • मैदा 200 ग्राम ( 2 कप)

पिट्ठी के लिए

  • बंधा गोभी 2 कप (कद्दूकस किया हुआ)
  • गाजर 1 कप (कद्दूकस किया हुआ)
  • दो छोटा शिमला मिर्च
  • पनीर 1 कप क्रम्बल किया हुआ
  •  लाल मिर्च स्वाद अनुसार
  • 2 हरी मिर्च बिल्कुल छोटे छोटे टुकड़ों में कटा हुआ
  • हरा धनिया बारीकी से कटा हुआ

Paneer Momos बनाने की विधि

Paneer Momos के लिए सबसे पहले मैदा को एक पतीले में छान कर पानी की सहायता से नरम आटा गूंद कर तैयार करिए तथा गुंदे हुए आटे को 1 से 2 घंटे के लिए ढककर रख दीजिये ताकि आटा सेट हो जाए।

तब तक Paneer Momos के लिए पीट्ठी तैयार कर लेते हैं आप अपने स्वाद के अनुसार (आप अपने स्वाद के अनुसार इसमें लहसुन तथा प्याज का भी प्रयोग कर सकते हैं)

तथा अब आप गैस ऑन करें तथा कढ़ाई में तेल गर्म करें तथा गर्म तेल में अदरक हरी मिर्च डालकर इसे भूनीए, भूनने के बाद कटी हुई सब्जियाँ, टोफू या पनीर डाल दीजिये, कालीमिर्च, लाल मिर्च, सिरका, सोया सास, नमक और हरा धनियाँ मिला कर 2 मिनिट चमचे से चलाकर भून लीजिये तथा अब आपका मोमोज में भरने के लिए पीठा तैयार है।

अब आप गूथे हुए आटे से छोटी-छोटी तथा गोल लोई बनाएं  लोई को सूखे मैदे में लपेटे और लोई को 3 इंच ब्यास वाले पूरी की तरह पतला बेले तथा बेली हुई पूरी मे पीट्ठा भरे तथा इसे चारों ओर से मोड डालते हुए बंद करें।

तथा सभी Paneer Momos को इसी तरह तैयार कर लीजिए तैयार करने के बाद इसे भाप में पकाना है इसके लिये या तो आपको मोमोज पकाने वाल बर्तन लेना पडे़गा, जिसमें चार या पाँच बर्तन एक के ऊपर एक लगे रहते हैं, नीचे का खाना थोड़ा बड़ा होता है जिसमें पानी भरा जाता है और ऊपर के तीन या चार बर्तन जिनमें जाली रह्ती है।

हम सबसे नीचे वाले बर्तन में एक तिहाई पानी भरकर गैस पर गरम करें तथा दूसरे तीसरे चौथे बर्तन में मोमोज रखकर बंद कर दे एक बर्तन में लगभग 16 से 17 मोमोज आते हैं तथा मोमोज को भाप से 10 से 15 मिनट पकाएं अब आपका सबसे नीचे वाले बर्तन का मोमोज पक गया है।

दूसरे बर्तन को नीचे कर दें और इस बर्तन को सबसे ऊपर कर दें. 8 मिनिट बाद इसे भी ऊपर कर दे और तीसरे बर्तन के मोमोज को पानी वाले बर्तन के ऊपर रखें और 5-6 मिनिट भाप में मोमोज को सेक लें।

 हम समय इस लिये कम करते जा रहे हैं क्यों कि सभी बर्तन एक के ऊपर एक हैं, और भाप ऊपर की ओर जाकर उन्हैं भी थोड़ा पकाती है अब आपका मोमोज वन कर पूरी तरह से तैयार है!

Paneer Momos के साथ खाने के लिए चटनी बनाने की आवश्यक सामग्री

  • टमाटर – 3
  • लाल मिर्च साबुत – 7-9
  • जीरा – आधा छोटी चम्मच
  • मैथी दाना – आधा छोटी चम्मच
  • हल्दी – 3 पिंच
  • हींग – 1-2 पिंच
  • नमक – स्वादानुसार
  • तेल – 1 टेबल स्पून

चटनी बनाने की विधि momos chutney

momos chutney के लिए सबसे पहले टमाटर को धोए तथा इसे काटे अब इसके बाद कढ़ाई में तेल डालकर गरम करे तथा इसमें हींग जीरा मेथी के दाने हल्दी और टमाटर डालकर 4 से 5 मिनट तक  हल्की आंच पर इसे भूनीए!

अब ठंडा होने पर इसे मिक्सर में डालिए और इसमें स्वाद अनुसार नमक डालकर इसे बारीकी से पीस लीजिए अब आपकी Paneer Momos के साथ है खाने के लिए चटनी बनकर पूरी तरह तैयार है तथा इसे प्लेट में निकालिए और मोमोज के साथ  खाइए

Momos Khane se Nuksan

मोमोज का सेवन  करने से कुछ हानिकारक एलिमेंट, जो मैदा को नर्म और क्लीन टेक्सचर देने का काम करते हैं, काफी मात्रा में मैदा में पाए जाते हैं जो हमारे शरीर में जाने के बाद पेनक्रियाज को बुरी तरह नुकसान पहुंचाते हैं। केमिकल्स के प्रभाव के चलते पेनक्रियाज द्वारा इंसुलिन प्रॉडक्टिविटी पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है। ये केमिकल्स इंसुलिन-डिपेंडेंट डायबीटीज की वजह भी होते हैं।

हमारे बाजारों में मोमोज की भी कई वरायटीज हैं, जिनमें से कुछ हेल्थ के लिए बेहद नुकसानदायक हैं आमतौर पर मोमोज बनाने के लिए सस्ती क्वालिटी की सब्जियों और चिकन का इस्तेमाल किया जाता है।

घटिया क्वालिटी की इन सब्जियों से अनेक बीमारियां होने का डर रहता है तो खराब क्वालिटी के चिकन में कई तरह के हार्मफुल बैक्टीरिया पाए जाते हैं। जो हमारे शरीर के अंदर जाकर immune system को काफी कमजोर बना देते हैं जिसके चलते हमें अनेकों प्रकार की बीमारी होने का खतरा रहता है।

 Paneer Momos एक नजर

 मोमोज के भराव में बंधा गोभी तथा गाजर मुख्य रूप से सब्जी है इसमें आप अपने स्वाद अनुसार सब्जी कम या ज्यादा भर सकते हैं अगर आपको सब्जी पसंद ना हो तो इसे छोड़ सकते हैं तथा इसमें केवल पनीर ही  कद्दूकस करके भर सकते हैं! पनीर मोमोज बहुत ही स्वादिष्ट बनता है!

अगर आपके पास Paneer Momos एवं momos chutney बनाने से जुडी कोई भी सवाल या सुझाव है तो निचे कमेंट जरूर करिये। धन्यवाद।


deepak

मैं खाना बनाने से जुड़ी हर तरह की जानकारी यहाँ पर शेयर करता हूं एवं खाना नाश्ता और मिठाई बनाने की कला उन सभी लोगों को सिखाता हूं जो इसमें रुचि रखते हैं। खाना बनाने के साथ ही उसकी गुणवत्ता पर ध्यान रखना जरूरी होता है क्योंकि जो खाना हम खा रहे हैं वो पौष्टीक एवं सुपाच्य होना चाहिए ताकि आसानी से पच भी जाए और उस खाने से हमें शक्ति मिले।

5 Comments

Chandan · May 24, 2020 at 2:08 pm

Good

sushil kumar · May 24, 2020 at 2:15 pm

panner momos ki jankari bahut achhi hai

Sarkari Naukri · May 25, 2020 at 5:29 am

Wow brother, this will help me in lockdown to make moms my own

Sunita Singh · May 26, 2020 at 4:50 pm

Deepak ji aapki paneer momo ki recipe bahut hi achhi hai lajwab h.Good job

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *